आबादी रोकने का धर्म

-अरुण कुमार त्रिपाठी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से आबादी पर लगाम लगाने की अपील करके एक जरूरी मुद्दे को चर्चा में ला दिया है। यह एक स्वागत योग्य वक्तव्य है। उनके वक्तव्य में ऐसा कुछ नहीं था जिस पर आल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन के नेता असद्दीन ओवैसी आपत्ति करें। अगर […]

0Shares
Continue Reading

कश्मीर पर जनता की एकजुटता का प्रदर्शन सरकार को मंजूर नहीं, किया नज़रबंद- रिहाई मंच

लोकतांत्रिक आवाजों को किया जा रहा है नजरबंद लखनऊ । कश्मीर के लोगों के साथ एकजुटता जताने के लिए आयोजित कार्यक्रम से ठीक पहले इसके दो प्रमुख आयोजकों पर कार्य्रकम रद्द करने के लिए पुलिसिया दबाव बनाये जाने को लेकर रिहाई मंच ने कड़ी निंदा की है। कहा कि यह लोकतांत्रिक आवाजों पर बढ़ रहे […]

0Shares
Continue Reading

जश्ने आजादी का सच : इस देश के सबसे बड़े अस्पताल में आम आदमी के इलाज की व्यवस्था कहां है मोदी जी?

तो देश के सबसे बड़े अस्पताल में आम आदमी को इलाज के लिए सालों तक इंतजार करना ही, सात दशक के लोकतंत्र की विकास यात्रा है? #एम्स @अरविंद सिंह जब बीते 23जुलाई को कैफियत एक्सप्रेस पकड़ आजमगढ़ से दिल्ली चला तो मन में यह भाव था कि अधिकतम एक सप्ताह में एम्स से फारिग होकर […]

0Shares
Continue Reading

मेरी जिन्दगी इतनी कीमती नहीं जितनी कि आप सोचते हैं :भगत सिंह

–अभिषेक प्रकाश चार अक्टूबर १९३० को भगत सिंह ने जेल से ही अपने पिता सरदार किशन सिंह को एक पत्र लिखा।यह पत्र भगत सिंह ने अपने पिता के उस कृत्य के विरोध में लिखा था जिसके द्वारा सरदार किशन सिंह ने भगत सिंह को बचाने के लिए ट्रिब्यूनल से एक बचाव पेश करने के लिए […]

0Shares
Continue Reading

72 साल के सफर में क्या खोया-क्या पाया

प्रदीप कुमार की फेसबुक वाल से ********************************* हम ख्याल और हमपेशा भाई राजेश राय का हुक्म था कि आजादी की सालगिरह के मौके पर 70 सालों के सफर में मुल्क और आवाम ने क्या खोया और क्या पाया इस पर मुक्तसर में कुछ लिखूँ । उनके हुक्म की तामीर जरूरी थी पर काफी टटोलने , […]

0Shares
Continue Reading

नज़रिया : सोशल मीडिया पर कैसी कैसी बहसे चल रहीं हैं धारा 370 पर

-दयानंद पांडेय की कलम से मैं डंके की चोट पर देशभक्त हूं , समझता हूं कि आप सभी हैं । सेक्यूलर होना ज़रूर आज की तारीख में गाली हो गया है । सिर्फ़ , भारत में ही नहीं , पूरी दुनिया में । अमरीका , चीन , फ़्रांस जैसे देशों ने इस्लामिक आतंकवाद के मद्देनज़र […]

0Shares
Continue Reading

चीन पर जनयुद्ध हो

के.विक्रम राव चीन का चलन चलनी जैसा है| मगर उसके बोल तो सूप जैसे ही हैं| आज भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर से बीजिंग में चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा कि पाकिस्तान से वार्ता द्वारा कश्मीर का समाधान निकाल लें| उधर सौ दिन से आजादी और मानवाधिकार हेतु संघर्षरत हांगकांग की जनता […]

0Shares
Continue Reading

धारा 370 : बिना संघर्ष और जनता के बीच गए विपक्ष का कोई भी विरोध, सिर्फ़ कोरी राजनीति होगी

–विशाल यादव जहाँ तक धारा 370 पर विपक्षियों के विरोध का सवाल है; तो यह सनद रहे की यह मुद्दा संघ के वैचारिकी का हिस्सा रहा है। संघ ने इस मुद्दे पर बहुत काम किया है,उसनें अपनें स्वयंसेवकों से लेकर आमजनमानस तक को इस पर बेहतर ढंग से जागरूक किया है,इसके विपरीत विपक्ष इस मुद्दे […]

0Shares
Continue Reading

तुलसीदास सांस्‍कृतिक चेतना को संरक्षित करने वाले कवि – प्रो. रजनीश कुमार शुक्‍ल

Vardha हिंदी विश्‍वविद्यालय में ‘वर्तमान समय की चुनौतियां और गोस्‍वामी तुलसीदास’ पर दो दिवसीय राष्‍ट्रीय संगोष्‍ठी का उदघाटन गोस्‍वामी तुलसीदास सांस्‍कृतिक चेतना को संरक्षित करनेवाले कवि है। वे राम के कवि थे इसलिए वे मर्यादा में लिखते थे। वे साधु कविता के कवि थे। कवि तुलसीदास लोक, लोकोद्धार, लौकितता और लोकमंगल के कवि है। उक्‍त […]

0Shares
Continue Reading

POK गिलगित-बाल्टिस्तान पर बातें कब होगीं?

सोशल मीडिया वास्तव में अगर जम्मू कश्मीर के बारे में बातचीत करने की जरूरत है तो वह है POK और अक्साई चीन के बारे मेंl इसके ऊपर देश में चर्चा होनी चाहिए गिलगित जो अभी POK नमें है विश्व में एकमात्र ऐसा स्थान है जो कि 5 देशों से जुड़ा हुआ है अफगानिस्तान, तजाकिस्तान(जो कभी […]

0Shares
Continue Reading