टैगोर की मशहूर कविता “एकला चलो रे” की राह पर अखिलेश यादव

अजय श्रीवास्तव सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि समाजवादी पार्टी किसी दल के साथ नहीं खड़ी होगी।हम किसी से गठबंधन नहीं करने जा रहे हैं,जो बीत गई वो बात गई।पत्रकारों ने जब अखिलेश यादव से सवाल किया कि मायावती ने आपके बर्थडे संदेश का जवाब नहीं दिया है तब उनका दर्द […]

Continue Reading

राष्ट्रीय स्तर का एथलीट कोमा मेंं …

नाम अंश यादव निवासी इटावा उत्तर प्रदेश ————————– अंश की उम्र महज 17 साल है वह राष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी है बताया गया है कि अंश राज्य-स्तरीय एथलीट, के मैदान में एक खेल शिविर में जाने की तैयारी कर रहा था जब वह अचानक बेहोश हो गया उन्हें तुरंत उत्तर प्रदेश के इटावा के एक […]

Continue Reading

क्या चंद्रशेखर मायावती का विकल्प बन सकते है

【अजय श्रीवास्तव】 अभी थोडे हीं दिनों पहले भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आजाद को दिल्ली पुलिस ने नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के खिलाफ दिल्ली की जामा मस्जिद में विरोध प्रर्दशन करने के कारण गिरफ्तार कर लिया गया था।चंद्रशेखर जमानत मिलने के चौबीस घंटे के अंदर फिर जामा मस्जिद पहुंच गए और उनका हजारों की […]

Continue Reading

निर्भया की मां आशा देवी हो सकती हैं अरविंद केजरीवाल के खिलाफ उम्मीदवार

 आशा देवी निर्भया की मां आशा देवी के कांग्रेस के टिकट दिल्ली के सीएम केजरीवाल के खिलाफ नई दिल्ली विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की संभावना है. नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव में निर्भया की मां आशा देवी सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ चुनावी मैदान में उतर सकती हैं. सूत्रों के मुताबिक, निर्भया की मां […]

Continue Reading

गौहर जान की जीवनी तवायफों के शोषण की दुःख भरी दास्तान है

       विकास-मार्ग पर तेज़ी से दौड़ता ‘हमारा भारत’ आज अपने समृद्ध इतिहास से लेकर अपने तकनीकी विकास तक की दूरी तय करता हुआ दुनिया में एक शक्तिशाली देश के रूप में उभर रहा है, लेकिन जब भारतीय इतिहास के उन गायब पन्नों पर नजर पड़ती है जिन पर भारत की कई अविस्मरणीय हस्तियों […]

Continue Reading

”मारग्रेट कंजिस”

सुनील दत्ता — ”अखिल भारतीय महिला सम्मेलन ‘ के प्रधान कार्यालय में प्रवेश करते ही आपको एक बोर्ड नजर आयेगा – ” मार्गरेट कंजिस मेमोरियल पुस्तकालय|” सामने ही दीवार पर उनका एक बड़ा – सा आकर्षक चित्र टंगा हैं | सन 1917 से 1947 तक भारत में महिला – सगठनों और महिला – आंदोलनों का […]

Continue Reading

बदलेंगे,बचेंगे और बढ़ेंगे भारत के अखबार

-प्रो. संजय द्विवेदी    डिजीटल मीडिया की बढ़ती ताकत, मोबाइल क्रांति और सोशल मीडिया की उपलब्धता ने पढ़ने की दुनिया को काफी प्रभावित किया है। पढ़े जाने वाले अखबार, अब पलटे भी कम जा रहे हैं। केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने एक बार रायपुर में ‘मीडिया विमर्श’ पत्रिका के आयोजन में कहा था कि “पहले एक […]

Continue Reading

भोजपुरी सिनेमा, भाषा और कलाकारों का राजनीतिक चोला

राज कुमार सिंह हिंदी फिल्मों का सुनहरा संसार तो है ही,साथ ही प्रादेशिक भाषाओं की फिल्मों का अपना अलग अस्तित्व है। नए कीर्तिमान है। उन्हीं भाषाओं में उत्तर भारत की लोकप्रिय भाषा भोजपुरी है । आज भोजपुरी अपने क्षेत्र प्रांत से निकलकर देश-विदेश में प्रचलित हो चुकी है। फिल्मों के शुरुआती दौर से ही भोजपुरी […]

Continue Reading

गोवा / राज्यपाल मलिक का सुझाव-प्रस्तावित रामजन्मभूमि मंदिर में केवट और शबरी की मूर्तियां भी हों

गोवा के राज्यपाल सत्यपाल मलिक। सत्यपाल मलिक ने कहा- केवट और शबरी ने श्रीलंका यात्रा में भगवान राम की मदद की थी, ऐसे में उनकी मूर्तियां भी मंदिर में हो‘‘मैं इस मांग का इंतजार कर रहा हूं कि लोग शबरी और केवट की मूर्ति प्रस्तावित राम मंदिर में स्थापित करने की मांग करे’’ पणजी. गोवा के […]

Continue Reading

यह मूक क्रांति और वंचितों के सोशल ट्रांसफार्मेशन की आहट तो नहीं?

@अरविंद सिंह तारिखी कैलेंडर में गुलाबी सर्द मौसम की यह 15 नवंबर की एक अलसुबह थी। एक दिन पहले ‘गांधी और उनकी पत्रकारिता’ पर शानदार विमर्श और चिंतन का गवाह बना आजमगढ़ नगर का एकमात्र सभागार नेहरूहाल, जो नगर के हृदय स्थल में स्थित है। थकान और सकुशल संपन्न हुए आयोजन से अलसाए मन-मस्तिष्क में […]

Continue Reading