लॉकडाउन के बीच देश में आज मनाई जा रही ईद, पीएम मोदी ने दी मुबारकबाद

India News

कोरोना वायरस की वजह से देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच ईद (Eid 2020) का त्योहार आज (सोमवार) मनाया जा रहा है। लॉकडाउन के चलते लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की गई है। ईद की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने देशवासियों को इस पर्व के लिए बधाई दी। राष्ट्रपति कोविंद ने अपने संदेश में लोगों से कहा कि सामाजिक दूरी के नियम का पालन करने का संकल्प लें और कोरोना वायरस की चुनौती से जल्द पार पाने व सुरक्षित रहने के लिए अन्य सभी एहतियात बरतें। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कामना की, ‘ईद-उल-फितर से जुड़े महान आदर्श हमारे जीवन में स्वास्थ्य, शांति, समृद्धि और सद्भाव लेकर आएं।’ वहीं, इस बार कोरोना वायरस और लॉकडाउन के चलते ईद की पूर्व संध्या पर रौनक दिखाई नहीं दे रही है। दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के जाकिर नगर में एक गैर-सरकारी संगठन चलाने वालीं शमा खान हर साल ईद पर गहने, कपड़े, बहुत सारी मिठाइयां खरीदती थीं और रिश्तेदारों को दावत देती थीं, लेकिन इस बार वह ऐसा नहीं कर रहीं।

– ईद के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को मुबारकबाद दी है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘ईद मुबारक, ईद-उल-फितर की बधाई। इस विशेष अवसर पर करुणा, भाईचारे और सद्भाव की भावना को आगे बढ़ाएं। सभी लोग स्वस्थ और समृद्ध रहें।’

– राष्ट्रपति कोविंद ने कहा, ‘यह त्योहार प्रेम, शांति, भाईचारे और सद्भाव की अभिव्यक्ति का है। इस मौके पर हम समाज के सबसे कमजोर वर्गों के साथ चीजों को साझा करने और उनकी देखभाल में अपने विश्वास की पुष्टि करते हैं।’ राष्ट्रपति भवन द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, राष्ट्रपति ने विदेशों में बसे नागरिकों समेत सभी लोगों को ईद-उल-फितर की पूर्व संध्या पर शुभकामनाएं दीं।

– जामिया नगर के निवासी मोहम्मद मुस्लिम और उनके दोस्तों ने भी इस साल ईद पर खरीदारी न करके उससे बचे पैसों को जरूरतमंद लोगों के लिए जरूरी सामान खरीदने पर खर्च करने का फैसला किया है।

– देश के अधिकतर हिस्सों में सोमवार को ईद मनायी जाएगी। हालांकि केरल और जम्मू-कश्मीर समेत कुछ जगहों पर रविवार को ही ईद मनाई गई। उत्तर प्रदेश में भी इस बार की ईद कुछ अलग होगी क्योंकि कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन लागू है । ईद की पूर्व संध्या पर गुलजार रहने वाली राजधानी लखनऊ के अमीनाबाद, नजीराबाद, फतेहगंज, लाटूश रोड और कैसरबाग की सड़कों पर रविवार को सन्नाटा पसरा रहा । मुस्लिम धर्मगुरूओं ने अपील की है कि लोग ईद घर पर ही रहकर मनायें ।

– बिहार में भी ईद की रौनक नदारद है और लोगों ने घरों में रहकर ही इसे मनाने का फैसला किया है। पश्चिम बंगाल में भी इस बार ईद सादगी से मनाई जाएगी। लॉकडाउन के चलते ईद की पूर्व संध्या पर लोग घरों में रहे और खरीदारी करने के लिए बाहर नहीं निकले।

– कोलकाता के बहू बाजार निवासी और पेशे से इंजीनियर जीशान अली (25) ने कहा, ”इस बार मैं जल्दी सोकर उठने और सुबह छह बजे अपने पिता के साथ रेड रोड पर नमाज पढ़ने जाने को याद करूंगा। मैं अपने दोस्तों से भी नहीं मिल पाउंगा। घर की चार दीवारी में नमाज पढ़ना…दिल तोड़ने वाला है। बहरहाल, इस बार हमें कुछ अलग अनुभव मिलेगा।’ कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित गुजरात में मुस्लिम समुदाय के नेताओं ने लोगों को नमाज के लिए मस्जिद नहीं जाने की हिदायत दी है।

– केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान और मुख्यमंत्री पी विजयन ने लोगों को ईद की बधाई दी। खान ने ट्वीट किया, ‘हमें कोविड-19 की रोकथाम और इसे खत्म करने का वरदान भी मिले।’ मुख्यमंत्री ने कहा कि ईद-उल-फितर समानता, सहिष्णुता और पश्चाताप का संदेश देती है।

Visits: 294
0Shares
Total Page Visits: 270 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *