मेरी राय – किसी भी स्थिति में सैयद मोदी हत्याकांड की चर्चा नहीं करें

Debate Lucknow Political News

हर आम खास को आगाह किया जा रहा है कि वह किसी चौक चौराहे पर कई बार राष्ट्रीय चैम्पियन रहे बैडमिंटन खिलाड़ी सैयद मोदी हत्या काण्ड की चर्चा नहीं करें।
यह एक राष्ट्रीय जरूरत है और मैं यह मानकर चल रहा हूँ कि असली राष्ट्रवाद में विश्वास करने वाले सभी लोग इस असली राष्ट्रीय जरूरत के तहत इस काण्ड के गड़े मुर्दे नहीं निकालेंगे लेकिन उनकी जिम्मेदारी यहीं से खत्म नहीं होती है। उनकी जिम्मेदारी यहीं से शुरू होती है क्योंकि कुछ देश विरोधी लोग ऐसा कर सकते हैं। असली राष्ट्रीय धारा को कमजोर करने के लिए सैयद मोदी हत्या काण्ड का गड़ा मुर्दा निकाल सकते हैं।
ऐसे में असली राष्ट्रीय धारा में विश्वास करने वालों की ड्यूटी है कि जो भी आम, खास या खासमखास सैयद मोदी हत्याकांड की चर्चा करे, उसे राष्ट्रविरोधी साबित करें। जरूरत पड़े तो ऐसा करने वालों को पाकिस्तानी एजेंट भी कहें।
इसके बाद भी कोई चर्चा करता है तो माना जायेगा कि वह जानबूझ कर राष्ट्रवादी शक्तियों को कमजोर कर रहा है। उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
इसे आदेश समझे या आग्रह, इस मामले में जो जहाँ है, वही बोले कि सैयद मोदी के निपट जाने से राष्ट्र मजबूत हुआ। उसे निपटाने वाले राष्ट्र की अमूल्य धरोहर हैं। यह तत्कालिक राष्ट्रीय जरूरत है

धीरेन्द्र नाथ श्रीवास्तव
सम्पादक, राष्ट्रपुरुष चन्द्रशेखर – सन्सद में दो टूक
लोकबन्धु राजनारायण – विचार पथ एक,अभी उम्मीद ज़िन्दा है

0Shares

168total visits,1visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *