तो क्या अब जम्मू कश्मीर के बाद POK है अमित शाह का अगला लक्ष्य

Debate India News Jammu and Kashmir

अतुलमोहन सिंह

जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत मिले विशेषाधिकारों को अब हटा दिया गया है। लोकसभा में धारा-370 हटाने को लेकर अमित शाह ने बिल पेश किया। अमित शाह ने कश्मीर पर बोलते हुए कहा कि मैं जब जम्मू कश्मीर बोलता हूं उसमें POK भी शामिल है। अमित शाह की बातों से साफ है कि उनका अगला लक्ष्य POK को वापस लाना है। इससे पहले लोकसभा में जम्मू कश्मीर पर बिल को लेकर जिस पर कांग्रेसी सांसदों ने कहा कि सरकार ने नियम तोड़ा है तो अमित शाह ने कहा हिम्मत है तो बताओ कौन का नियम तो’ड़ा है। अमित शाह और कांग्रेसी सांसदों में इस मुद्दे को लेकर गर्मागर्मी भी हुई। अमित शाह ने कहा कि वो जम्मू कश्मीर के लिए जा’न भी दे देंगे।

केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद घाटी में सुरक्षा को बढ़ाया गया है ताकि किसी भी तरह की स्थिति से निपटा जा सके। खुद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल भी इस वक्त श्रीनगर में हैं और करीबी से हालात पर नजर बनाए हुए है। अजित डोभाल केंद्र के फैसले को सही तरीके तक लागू होने तक वहां ही रहेंगे। NSA अजित डोभाल लगातार वहां पर लोकल लोगों से बैठक कर रहे हैं। अनुच्छेद 370 पर फैसले के बाद जम्मू-कश्मीर से जो ग्राउंड रिपोर्ट सरकार को मिली है। ये रिपोर्ट खुद NSA अजित डोभाल ने केंद्र सरकार को भेजी है। गृह मंत्री अमित शाह ने जो राज्यसभा में बयान दिया है कि समय आने पर जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश से पूर्ण राज्य बना दिया जाएगा। उस वादे का स्थानीय निवासियों ने स्वागत किया है, वो खुश हैं। जम्मू-कश्मीर में अभी भी पूरी तरह से शांति है। लोग अपने रोजाना काम के लिए अब आराम से आ-जा रहे हैं।

स्थानीय निवासियों की मानें तो उनके हिसाब से केंद्र सरकार ने अपने फैसले को बिल्कुल सही तरीके से लागू किया है। कश्मीर में इस तरह का माहौल है कि इस मुद्दे को लेकर स्थानीय नेताओं ने एक अलग माहौल बनाया और लोगों को डरा कर रखा। गौरतलब है कि सोमवार को केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को कमजोर करने का फैसला किया और साथ ही साथ जम्मू-कश्मीर को एक केंद्र शासित प्रदेश बना दिया। इसी फैसले को देखते हुए बीते दिनों घाटी में हजारों सुरक्षाबलों की तैनाती की गई थी, घाटी में करीब 1000 के आसपास सुरक्षाबलों की कंपनियां तैनात की गई थीं। अब केंद्र सरकार का फैसला सही तरीके से लागू हो, परिसीमन में कोई दिक्कत न आए। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए NSA अजित डोभाल श्रीनगर में ही हैं और सबकुछ सामान्य होने तक वहां पर ही रहेंगे। बता दें कि अभी भी जम्मू और कश्मीर के इलाकों में धारा 144 लागू है।

0Shares

239total visits,1visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *