क्या है महुआ मोइत्रा के भाषण का अंश? (उन्होंने जो कहा उसे पढ़ना चाहिए)

मैं विनम्रता पूर्वक मौजूदा सरकार को मिली भारी जीत स्वीकार करती हूं . इसलिए ये ज़रूरी हो जाता है कि हमारी असहमतियां भी सुनी जाएं . अगर बीजेपी या राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को यह भारी समर्थन न मिला होता, तो उन पर नियंत्रण रखने, संतुलन बनाने, ‘चेक और बैलेंस’ के लिए एक स्वाभाविक व्यवस्था होती […]

0Shares
Continue Reading

विजयवर्गीय की औकात भी तो पूछ लेते

नेता पत्रकारों से औकात पूछे और खबर भी न छपे तो नेताओं का दिमाग खराब होगा ही। भाजपा महासचिव के विधायक पुत्र ने इंदौर नगर निगम के अधिकारी की बल्ले से पिटाई की और इस बारे में जब न्यूज़24 ने कैलाश विजयवर्गीय से बात की तो उन्हीने आपा खो दिया। एंकर ने कैलाश विजयवर्गीय से […]

0Shares
Continue Reading