मेरी आवाज़ गूंगी है कि तेरे कान बहरे हैं ?

इन 16 सालों में गंगा, यमुना, ब्रह्मपुत्र और इम्फाल की अपार जलराशि मंे कितनी जलधारा बह गयी होगी, किसी को क्या पता । इन वर्षों में कितने घरों में शहनाई बजी होगीं, कितनी युवतियां माँ बन चुकी होगीं, और पैदा हुये बच्चे किशोरावस्था में पहुँच सपने बुनने लगे होंगे। इसी दौर में, अपनी यौवन के […]

0Shares
Continue Reading