सुनो सरकार! यूँ खुद की लाश अपने कंधों पे उठाये हैं, ये शहर के वाशिंदों! हम गांव से आये हैं…

सुनो सरकार! ‘गरीबी में आटा गीला’ समझ आता है पर आटा मिले ही ना तो कोई क्या करे? गये तो कमाने थे, पर खाने के लाले पड़ गये तो कोई क्या करे? कोरोना से आप बचा लोगे पर भूख से कैसे बचें ये सवाल है। बड़े शहर में मामूली सा मजदूर खाली जेब और भूखे […]

0Shares
Continue Reading

कुशाभाऊ ठाकरे का नाम हटाना चंदूलाल जी का सम्मान नहीं!

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नाम संजय द्विवेदी का खुला पत्र सेवा में, श्री भूपेश बघेल जी मुख्यमंत्रीः छत्तीसगढ़ शासन, रायपुर आदरणीय भूपेश जी, सादर नमस्कार, आशा है आप स्वस्थ एवं सानंद हैं। यह पत्र विशेष प्रयोजन से लिख रहा हूं। मुझे समाचार पत्रों से पता चला कि आपके मंत्रिमंडल ने रायपुर स्थित […]

0Shares
Continue Reading

कोरोना से जंग के लिए MP और MLA फंड नहीं, अपनी तनख्वाह से कितना दे रहे हैं जनाब?

– बीरेन्द्र सिंह मित्रों नमस्कार ! भारत ही नहीं पूरा विश्व इस समय कोरोना वायरस के प्रभाव में आ चुका है। विश्व की बहुत सारी शक्तियां इस वायरस के सामने घुटने टेक चुकी है।जैसे इटली, स्पेन ,चाइना ,अमेरिका व अन्य यूरोपीय व एशियाइ देश। भारत में भी इसका प्रभाव तेजी से बढ़ रहा है।हमारे देश […]

0Shares
Continue Reading

नेचर डिस्टेंस से सोशल डिस्टेंस पैदा हुआ..!

निरंतर खबरें जो आ रही हैं वह बहुत विचलित करने वाली हैं। प्रवासी मज़दूरों की हालत तीतर-बटेर सी हो गयी है। –डा०सुनीता ऐसा दिन, माहौल और हालात शायद लोगों ने भारत-पाक विभाजन, अंग्रेज़ी शासन के दौर में देखा होगा। जब आवागमन की सुविधायें नहीं थीं। लोग चोरी-छुपे एक जगह से दूसरे जगह जाने की जुगत […]

0Shares
Continue Reading

हम एक विचित्र मोड़ पर आ गए हैं, न वर्तमान सुरक्षित लग रहा है और न भविष्य का पता है..!

एक दिन में बढ़ गए कोरोना के 10,000 मामले, आखिर क्यों पिछड़ गया अमरीका लड़ाई में..। –रवीश कुमार अमरीका में एक दिन में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ों की संख्या 10,000 बढ़ गई है। इस छलांग से अमरीका चीन और इटली से भी आगे निकल गया है। अमरीका में संक्रमित मरीज़ों की संख्या 85,500 हो […]

0Shares
Continue Reading

‘गूंगी गुड़िया’ ने कैसे ताकतवर “सिंडिकेट” को धुल चटाया था

सफर पर एक नज़र फिरोज गांधी से इंदिरा के संबंध बेहद खराब हो चले थे और इंदिरा ने ये समझ लिया था कि अब फिरोज को समझाना बेकार है।इंदिरा अपने दोनों बच्चों राजीव और संजय के साथ अपने पिता के घर त्रिमूर्ति भवन में रहने आ गईं थीं।जवाहरलाल नेहरू अपनी पुत्री को अपना उत्तराधिकारी बनाना […]

0Shares
Continue Reading

मोदी जी! मेरा भारत कोरोना से पहले इन जानलेवा पैदल यात्राओं में ना दम तोड़ दे !

–पंकज चतुर्वेदी टीवी पर खबरें देख रहा हूं- सोनीपत- पानीपत के रास्ते दिल्ली होते हुए महोबा झांसी तक पैदल जाने वाले मजदूर। बच्चे कंधे पर लादे हुए उन्नाव से लखनऊ होते हुए बाराबंकी से आगे जाते हुए मजदूर। पैरों में छाले पड़े हुए । जम्मू, पंजाब, हिमाचल, राजस्थान हर जगह जहां औद्योगिक क्षेत्र है, पूंजीवाद […]

0Shares
Continue Reading

कहीं मुफलिसी और मौत का मंजर भूखी अंतड़ियों और सुखी हड्डियों से चीख़ चीख़ के सभ्य समाज की पोल न खोल दे ?

मैं लॉकडाउन का पालन कर रहा हूँ।घर में जो राशन है महीने भर बड़े आराम से चल जाएगा। एलपीजी का एक बॉटल रिजर्व रखा हुआ हूँ।मेरे जागने से पहले दुधारा दूध दे जाता है। जहां रहता हूँ पास में किराना स्टोर है और सब्जियां भी थोड़ी महँगी ही सही मिल जा रही हैं।कोई मुश्किल काम […]

0Shares
Continue Reading

कमिश्नर और डीआईजी ने Lockdown में आम जन की सुविधाओं का लिया जायजा

लोगों को आपस में एक दूसरे से दूरी बनाये रखने के प्रति निरन्तर जागरुक करते रहें : मण्डलायुक्त लाकडाउन में सहयोग नहीं करने वालों के विरुद्ध जारी रहेगी कठोर कानूनी कार्यवाही : डीआईजी आज़मगढ़ 26 मार्च । मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी तथा डीआईजी सुभाष चन्द्र दूबे ने जारी लाकडाउन के दौरान लोगों को उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी […]

0Shares
Continue Reading

कुछ ऐसे हैं आप सांसद संजय सिंह…!

यह माँ तमिलनाडु से चलकर कुछ महीने पहले अपने 9 महीने के बेटे को लेकर संजय भइया के पास आयी थी, इन्होंने किसी के माध्यम से सुना था की दिल्ली में सांसद संजय सिंह के पास चले जाओ वह तुम्हारी मदद करेंगे। माँ आकर अपने बेटे की ज़िंदगी के लिए रोने लगी,उन्हें हिंदी बोलने और […]

0Shares
Continue Reading